आखिर क्यों मांग रहा 181 साल का बुज़ुर्ग मौत की दुआ ?

आखिर क्यों मांग रहा 181 साल का बुज़ुर्ग मौत की दुआ ?



आज हम आप को एक ऐसे बुजुर्ग आदमी के बारे में बताने जा रहे हैं जसिके बारे में आप शायद ही जानते होंगे । इंडोनेशिया में रहने वाले 145 साल के मबाह गोथो का नाम सबसे उम्रदराज लोगों की लिस्ट में सामने आया है। हालांकि, किसी तरह से अपनी लड़खड़ाती जिंदगी जी रहे मबाह का कहना है कि वो अब और जीना नहीं चाहते हैं।


इस बुजुर्ग का नाम इंडोनेशिया के एक सरकारी दस्तावेज से सामने आया हैं ।आप की जानकारी के लिए बता इ की इस दस्तावेज में इनकी जन्म की तारीख 31 दिसंबर 1870 दर्ज है ।हालांकि इस दस्तावेज को अभी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रमाणिकता नहीं मिली है। मबाह गोथो के 10 बेटे और आठ पत्नियां थीं, लेकिन वो सभी इस दुनिया में नहीं है। वो फिलहाल अपने पोतों और पर-पोतों की देखरेख में रहते हैं।




145 साल के इस बुजुर्ग का कहना है कि उनकी एक ही इच्छा है कि उन्हें मौत नसीब हो जाए। वहीं, उनके पोते ने बताया कि मबाह 122 साल के होने के बाद से ही अपने मरने की कामना कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि मबाह का शरीर इतना बेजान हो चुका है कि वो न ही अपने आप कुछ खा सकते हैं और न ही खुद से नहाने जैसे बाकी काम कर सकते हैं।



उम्र का रिकॉर्ड रखने वाली इंडोनेशियाई संस्था का कहना है कि वो मबाह की इंडोनेशिया के आईडी पर लिखी जन्मतिथि (31 दिसंबर 1870), की पुष्टि कर चुके हैं। लेकिन विश्व के सबसे उम्रदराज इंसान कहलाने के लिए उनके दस्तावेजों को स्वतंत्र रूप से प्रमाणिकता मिलना जरूरी है। फिलहाल दुनिया की सबसे बुजुर्ग व्यक्ति होने का श्रेय फ्रांस की ‘जैन कालमेंट’ के पास है। वो 122 तक जीवित रही थीं।





Comments